434.60 अरब डालर की रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंचा विदेशी मुद्रा भंडार – RBI गवर्नर

सप्ताह के दौरान रिजर्व बैंक के पास पड़ा सोने का भंडार 10.2 करोड़ डालर बढ़कर 26.945 अरब डालर के बराबर रहा। इस दौरान अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष के पास भारत का विशेष आहरण अधिकार 70 लाख डालर कम हो कर 1.428 अरब डालर रहा।

0
36

मुंबई: देश का विदेशी मुद्रा भंडार 1 अक्टूबर को समाप्त सप्ताह के दौरान बढ़कर 434.60 अरब डालर की नई ऊंचाई पर पहुंच गया है। भारतीय रिजर्व बैंक  के गवर्नर ने शुक्रवार को मौद्रिक नीति की समीक्षा की घोषणा करते हुए कहा कि एक अक्टूबर को विदेशी विनिमय भंडार ने ऊंचाई का नया रिकार्ड कायम किया है। अप्रैल के शुरू से एक अप्रैल की अवधि में देश के विदेशी मुद्रा भंडार में 21.7 अरब डालर की वृद्धि हुई है।

ताजा साप्ताहिक आंकड़ों के अनुसार 27 सितंबर को समाप्त सप्ताह के बाद विदेशी मुद्रा भंडार 5.022 अरब डालर बढ़कर 433.594 अरब डालर के स्तर पर पहुंच गया है। इससे पिछले सप्ताह भंडार 38.8 करोड़ डालर घटकर 428.572 अरब डालर पर आ गया था। इस दौरान ज्यादातर वृद्धि विदेशी मुद्रा सम्पत्तियों में बढ़ोतरी से हुई। इस तरह की सम्पत्तियां सप्ताह के दौरान 4.944 अरब डालर बढ़कर 401.615 अरब डालर पर पहुंच गयीं।

डालर के मुकाबले अन्य मुद्राओं की विनिमय दरों में घटौती और बढ़ोतरी से दूसरे मुद्राओं में पड़ी विदेशी मुद्रा सम्मत्तियों का मूल्य भी प्रभावित होता है। सप्ताह के दौरान रिजर्व बैंक के पास पड़ा सोने का भंडार 10.2 करोड़ डालर बढ़कर 26.945 अरब डालर के बराबर रहा। इस दौरान अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष के पास भारत का विशेष आहरण अधिकार 70 लाख डालर कम हो कर 1.428 अरब डालर रहा। इसी तरह मुद्राकोष के पास जमा भारत का आरक्षित कोष भी 1.70 करोड़ डालर घट कर 3.606 अरब डालर के बराबर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here