एकबार फिर तेज़ हुई Coronavirus की रफ्तार, पिछले 24 घंटे में 43 हज़ार से ज्यादा मामलों की बढ़ोतरी

देशभर में कोरोना के एक्टिव मामले 4,58,727 है, जबकि अभी तक देश में 4,05,939 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है।

0
35

नई दिल्ली: देशभर में कोरोना के मामलों में एकबार फिर बढ़ोतरी देखी गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में 43,393 मामलों की बढ़ोतरी हुई है। इसी आंकड़े के मुताबिक 44,459 लोग इस बीमारी को हरा कर ठीक हो चुके हैं। वहीं दुखद बात ये है कि 911 लोगों की मौत भी इस संक्रमण की वजह से हो गया है। 24 घंटे में आए इस आंकड़े के मुताबिक देश में अबतक कुल 3,07,52,950 मामले सामने आ चुके हैं, जिसमे से 2,98,88,284 लोग ठीक हो चुके हैं।

देशभर में कोरोना के एक्टिव मामलों की बात करें तो यह संख्या 4,58,727 है, जबकि अभी तक देश में 4,05,939 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है। वैज्ञानिकों ने जहां अंदेशा जताया है कि कोरोना की तीसरी लहर में देश में पांव पसार सकता है तो इसको लेकर भी लोगों को समय समय पर आगाह कर रही है, लेकिन कई जगहों पर लोग इस बात को मानने के लिए तैयार नहीं हैं। पिछले कुछ दिनों में कई शिमला. धर्मशाना, मसूरी जैसे पर्यटन स्थलों से जो तस्वीर सामने आ रही है वो डराने वाली है। इन तस्वीरों को देखकर तो यही लगता है कि लोग शायद इसबात से बेखबर हैं कि कोरोना की तीसरी लहर और ज्यादा तबाही मचा सकते हैं।

फिलहाल अभी कोरोना के खिलाफ टीकाकरण सबसे बड़ा हथियार है, ऐसे में लगातार टीकाकरण की रफ्तार को बढ़ाने की कोशिश हो रही है। देश में अभी तक 36,89,91,222 कोरोना की डोज लोगों को दी जा चुकी है। पिछले 24 घंटों में 40,23,173 वैक्सीन की डोज लोगों की दी गई है। देश में अभी तक आए कुल संक्रमण के मामलों को देखें तो उसमे से सिर्फ 1.49 फीसदी ही एक्टिव केस हैं, जबकि देश में कोरोना से ठीक होने की दर 97.19 फीसदी तक पहुंच गई है। देश में अभी तक 42.70 करोड़ कोरोना के सैंपल की जांच की जा चुकी है।

कोरोना की दूसरी लहर में बड़ी संख्या में लोगों की ऑक्सीजन की कमी से मौत हो गई। देश के अलग-अलग हिस्सों में अस्पतालों में ऑक्सीजन की किल्लत सामने आई थी, जिसके बाद स्पेशल ऑक्सीजन ट्रेन तक चलानी पड़ गई थी। ऐसे में संभावित कोरोना की तीसरी लहर में ऑक्सीजन की कमी ना हो इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उच्त स्तरीय समीक्षा बैठक कर चुके हैं। बैठक में स्वास्थय विभाग से जुड़े शीर्ष अधिकारी हिस्सा लिया। बैठक में देशभर में ऑक्सीजन की उपलब्धता को लेकर प्रधानमंत्री ने जानकारी ली।