चीन में कोरोना वायरस से मचा हाहाकार, अभतक कम से कम 361 की मौत, मास्क की भारी किल्लत

कोरोना वाइरस को लेकर संक्रमण का मामला बढ़ता जा रहा है। सरकार के बयान के बाद इस बात का भी खुलासा हुआ है कि 1.4 अरब की आबदी वाले चीन में कोरोना से लड़ने के लिए मेडिकल उपकरणों की कमी हो गई है।

0
86

नई दिल्ली: कोरोना वाइरस की वजह से चीन में हाहाकार मचा हुआ है। इस ख़तरनाक वायरस की वजह से चीन में अबतक कम से कम 361 लोगों की मौत हो चुकी है। मौत का ये आंकड़ा साल 2003-2004 में बीजिंग में सार्स (SARS) वायरस से हुई मौतों की संख्या से ज्यादा हो चुका है। इतना ही नहीं, चीन में कोरोना वाइरस से संक्रमित मामले में जबरदस्त बढ़ोतरी हुई है। मिली जानकारी के मुताबिक चीन में अबतक 17,205 मामलों की पुष्टि हो चुकी है। इनमें से कम से कम 2,103 नए मामले हैं। चीन की सरकार ने सोमवार को एक बयान जारी कर कहा है कि उसे तत्काल प्रभाव से कोरोना से लड़ने के लिए बड़े पैमाने पर मेडिकल उपकरणों की जरूरत है।

आपको बता दें कि चीन में लगातार कोरोना वाइरस को लेकर संक्रमण का मामला बढ़ता जा रहा है। सरकार के बयान के बाद इस बात का भी खुलासा हुआ है कि 1.4 अरब की आबदी वाले चीन में कोरोना से लड़ने के लिए मेडिकल उपकरणों की कमी हो गई है। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हुआ चुनइंग ने कहा, “चीन में मेडिकल उपकरण की कमी हो गई है। चीन को तत्काल प्रभाव से मेडिकल मास्क, मेडिकल गाउन और सुरक्षा गोगल्स की जरूरत है।” वहां के उद्योग मंत्रालय के मुताबिक चीन में सामान्य परिस्थितयों में रोज 20 मिलियन मास्क का उत्पादन होता था, लेकिन कोरोना के कहर के कारण फैक्ट्रियां आजकल 60 से 70 फीसदी ही उत्पादन कर पा रही हैं।

चीन को पहले से ही साउथ कोरिया, जापान, कजाकिस्तान और हंगरी ने मास्क भेजे जा रहे हैं। चीन के उद्योग मंत्री यूलांग ने बताया है कि मास्क की कमी को दूर करने के लिए यूरोप, जापान और अमेरिका से मास्क मंगवाकर इसकी कमी को दूर करने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि कंपनियां जल्द ही पूरा उत्पादन शुरू कर देंगी और इस कमी को दूर कर लिया जाएगा। इस बीच कोरोना से लड़ने के लिए चीन ने 10 दिनों के अंदर 1000 बेड वाला अस्पताल बनाकर तैयार कर लिया है। मिली जानकारी के मुताबिक अगले दो दिनों में इस अस्पताल में इलाज होना शुरू हो जाएगा। इस अस्पताल के लिए चीन में तेजी से काम शुरू हुआ था।

चीन में महामारी की तरह फैले इस वायरस ते चलते भारत सरकार वहां फंसे अपने नागरिकों को वापस ला रही है। शनिवार को एअर इंडिया की स्पेशल फ्लाइट चीन से 324 भारतीयों को लेकर नई दिल्ली पहुंची थी। रविवार की सुबह भी एअर इंडिया का एक और विमान भारतीयों को लेकर नई दिल्ली पहुंचा। चीन के वुहान शहर से उड़ान भरने वाले एअर इंडिया के इस विमान से 323 भारतीय स्वदेश लौटे हैं। इनके साथ ही मालदीव के 7 नागरिकों को भी दिल्ली लाया गया है और इसके लिए मालदीव सरकार ने भारत सरकार को धन्यवाद भी दिया है।