कोरोनावाइरस के कारण भारत में बढ़ी N-95 मास्क की मांग, मदुरई की कंपनी ने दोगुना किया उत्पाद

कोरोना वायरस विषाणुओं का एक बड़ा समूह है लेकिन इनमें से केवल छह विषाणु ही लोगों को संक्रमित करते हैं।

0
233
Photo: ANI

नई दिल्ली: चीन में जहां एक तरफ कोरोना वाइरस ने क़हर बरपा रहा है, वही इसकी वजह से भारत में हाई अलर्ट एडवाइजरी जारी कर दिया गया है। कोरोना वाइरस की वजह से चीन में अबतक कम से कम 170 लोगों की मौत हो गई है और कम से कम 7000 लोगों के इसके चपेट में आने की पुष्टि भी की गई है। कोरोना वाइरस के प्रभाव को रोकने के लिए N-95 मास्क के इस्तेमाल की एडवाइजरी जारी की गई है और इसकी वजह से भारत में इस मास्क की मांग बढ़ गई है। भारत में मास्क बनाने वाली कंपनियों को अब बाहर के देशों से ज्यादा ऑर्डर मिल रहे हैं। इसी दौरान मदुरई की एक कंपनी ने मास्क के प्रोडक्शन को दोबारा कर दिया है।

N95 मास्क बनाने वाली भारतीय कंपनी के मुताबिक उन्हें भारतीय एक्सपोर्टर्स की ओर से मास्क की बड़ी डिमांड आ रही है। उनके मुताबिक कंपनी ने मांग को पूरी के लिए उत्पादन दोगुना कर दिया है। वहीं ऑर्डर की बड़ी संख्या को देखते हुए यहां काम के घंटों में भी बढ़ोतरी भी कर दी गई है। आपको बता दें कि कोरोना वायरस विषाणुओं का एक बड़ा समूह है लेकिन इनमें से केवल छह विषाणु ही लोगों को संक्रमित करते हैं। इसके सामान्य प्रभावों के चलते सर्दी-जुकाम होता है लेकिन ‘सिवीयर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम’ (सार्स) ऐसा कोरोनावायरस है जिसके प्रकोप से 2002-03 में चीन और हांगकांग में करीब 650 लोगों की मौत हो गई थी।