दिल्ली के जामिया इलाके में फायरिंग, युवक ने लहराई देसी पिस्तौल, एक छात्र घायल

15 दिसंबर को जब से जामिया में हिंसा हुई थी उसके बाद से प्रदर्शन चल रहे हैं। पुलिस जामिया कैम्पस से पहले होली फैमिली और सुखदेवविहार तक मौजूद रहती है। पुलिस आगे नहीं जाती और न चैकिंग करती है।

0
76
Photo: Reuters

नई दिल्ली: दिल्ली के जामिया नगर इलाके में एक अज्ञात शख्स ने भीड़ से बाहर निकल कर फायरिंग कर दी है, जिसमें जामिया का एक छात्र घायल हो गया है। घायल छात्र को इलाज के लिए होली फैमिली हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया है। मिली जानकारी के मुताबिक, गोली चलाने वाले शख्स ये बोलते हुआ फायरिंग कर दी कि मैं तुम्हे आजादी दिलाता हूं। बताया जा रहा है कि भीड़ पर फायरिंग करने वाले शख्स को गिरफ्तार कर लिया गया है। उसकी पहचान राम भगत गोपाल के रुप में हुई है और वो ग्रेटर नोएडा के जेवर का रहने वाला है। फायरिंग करने से पहले अपने फेसबुक अकाउंट से लाइव भी हुआ था।

मिली जानकारी के मुताबिक गोपाल जामिया का स्टूडेंट नहीं है। फिलहला पुलिस ने गोपाल को गिरफ्तार कर लिया है और उससे पुछताछ कर रही है। वहीं इसके बाद बरपे हंगामे के मद्देनजर दिल्ली मेट्रो ने अपने तीन स्टेशन को बंद कर दिया है। जिन मेट्रो स्टेशनों को बंद किया गया है उनके नाम हैं जामा मस्जिद, आईटीओ और दिल्ली गेट मेट्रो स्टेशन। जानकारी मिली है कि जहां फायरिंग हुई है वहां पहले से ही सीएए के विरोध में प्रदर्शन मार्च हो रहा था। जैसे ही मार्च सुखदेव विहार मेट्रो स्टेशन पहुंचा तभी इसी बीच एक युवक पिस्तौल लेकर पहुंचा और हवाई फायरिंग करने लगा। फायरिंग के दौरान युवक जय श्रीराम के नारे लगा रहा था।

युवक को मौके से गिरफ्तार करने के बाद पुलिस उसे हिरासत में लेकर पहले अस्पताल पहुंची। बता दें कि 15 दिसंबर को जब से जामिया में हिंसा हुई थी उसके बाद से प्रदर्शन चल रहे हैं। पुलिस जामिया कैम्पस से पहले होली फैमिली और सुखदेवविहार तक मौजूद रहती है। पुलिस आगे नहीं जाती और न चैकिंग करती है। आने जाने वाली की चेकिंग नहीं होती है क्योंकि ये रास्ता जामिया के आगे शाहीन बाग की तरह रिहाइशी इलाके में जाता है।