अगर आप ऐंड्रॉयड फोन यूजर हैं तो हो जाएं सावधान, माइक्रोसॉफ्ट ने जारी की चेतावनी…

ये एक अलग तरह का रैनसमवेयर जो दूसरे रैनसमवेयर की तरह आपके डिवाइस को इनक्रिप्ट नहीं करता है। ये स्क्रीन को एक मैसेज के साथ फ्रीज कर देता है।

0
422

नई दिल्ली: अगर आप ऐंड्रॉयड यूजर हैं तो ये ख़बर आपके लिये है। दरअसल ऐंड्रॉयड यूजर्स के लिए माइक्रोसॉफ्ट ने एक बड़ी चेतावनी जारी की है। माइक्रोसॉफ्ट ने एक नए रैनसमवेयर का पता लगाया है जो इन दिनों में ऐंड्रॉयड स्मार्टफोन्स को नुकसान पहुंचा सकता है। माइक्रोसॉफ्ट ने इस रैनसमवेयर को MalLocker.B नाम दिया है। ये रैनसमवेयर ऑनलाइन फोरम और वेबसाइट के जरिए फैल रहा है। ये रैनसमवेयर मैलिशस ऐंड्रॉयड ऐप्स में छिपा रहता है। इसलिए जब भी आप किसी भी वेबसाइड से ऐप्स डाउनलोड करें तो आप इसको करते समय सावधानी बरतें।

माइक्रोसॉफ्ट ने अपनी चेतावनी में इस बात की जानकारी दी है कि ये रैनसमवेयर दरअसल आपके फोन की स्क्रीन को ऐक्सिस करने से रोकता है। ये एक अलग तरह का रैनसमवेयर जो दूसरे रैनसमवेयर की तरह आपके डिवाइस को इनक्रिप्ट नहीं करता है। ये स्क्रीन को एक मैसेज के साथ फ्रीज कर देता है। इस मैसेज का बारे में दरअसल दावा किया जाता है कि ये मैसेज लॉ इन्फोर्समेंट एजेंसी की तरह से आया है लेकिन ऐसा नहीं है। इस मैसेज में ये भी कहा जाता है कि अगर आपको अपना स्क्रीन अनलॉक करना है तो आपको जुर्माना देना होगा।

इसको लेकर माइक्रोसॉफ्ट ने जानकारी दी है कि अधिकतर ऐंड्रॉयड रैनसमवेयर से अलग यह नया थ्रेट फाइल्स को इनक्रिप्ट करके उनके ऐक्सिस को ब्लॉक नहीं करता। इसकी जगह, यह स्क्रीन पर मेसेज के साथ डिवाइस का ऐक्सिस ही ब्लॉक कर देता है। यह स्क्रीन हर विंडो में दिखती है, यानी यूजर फोन में कुछ और कर ही नहीं सकता। स्क्रीन पर एक रैनसम नोट दिखता है जिस पर थ्रेट मेसेज होता है और रैनसम को पैसे चुकाने के दिशा-निर्देश रहते हैं। दरअसल यह रैनसमवेयर ‘कॉल’ नोटिफिकेशन का फायदा उठाता है और जब इनकमिंग कॉल आती है तो यह रैनसमवेयर ऐक्टिवेट हो जाता है। इसके अलावा यूजर जब होम बटन या रीसेंट ऐप बटन प्रेस करता है तो मेसेज के साथ स्क्रीन लॉक हो जाती है।