Uttar Pradesh: बेटी के साथ छेड़खानी के विरोध पर बदमाशों ने पिता की गोली मार कर हत्या की, सीएम Yogi Adityanath ने NSA लगाने के निर्देश दिये..

पुलिस ने इस मामले में तुरंत कार्यवाई करते हुए एक नामजद हत्यारोपी ललित शर्मा पुत्र सन्तोष शर्मा को गिरफ्तार कर लिया। इसके अलावा पुलिस बाकी अन्य आरोपियों की तलाश में जुट गई है।

0
164

हाथरस: एक पिता को अपनी बेटी के साथ हुई छेड़खानी की शिकायत करना इतना भारी पड़ा कि इसकी कीमत उन्हें अपनी जान देकर चुकानी पड़ी। वाक़या हाथरथ जनपद के नौजरपुर गांव का है जहां एक युवक ने अपने कुछ साथियों के साख मिलकर 52 वर्षीय किसान की गोली मार कर हत्या कर दी। उस किसान ने बस अपनी बेटी के साथ हुए छेड़खानी की विरोध किया था। मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए ज़िला अस्पताल भेज दी। मृतक की बेटी की तहरीर पर पुलिस ने 6 लोगों के ख़िलाफ मामला दर्ज कर लिया और त्वरित कार्यवाही करते हुए एक आरोपी ललित शर्मा को गिरफ्तार भी कर लिया और बांकी आरोपियों की तलाश के लिए जगह जगह दबिश दे रही है।

मृतक किसान का नाम अमरीष शर्मा बताया जा रहा है और उसने 16 जुलाई 2018 को मुख्य आरोपी गौरव के खिलाफ घर में घुसकर छेड़खानी करने का आरोप लगाते हुए पुलिस में मामला दर्ज करवाया था। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया था और उसे 15 दिनों के लिए जेल में भी रहना पड़ा था। तभी से ही आरोपी गौरव इसे रंजिश मानता आ रहा था और मृतक पर लगातार फैसला करने का दवाब डाल रहा था। लेकिन सोमवार दोपहर करीब 4 बजे अमरीष अपने खेतों पर आलू की खुदाई करा रहे थे। उसी दौरान उनकी पत्नी और पुत्री प्रियंका शर्मा खाना देने के लिए खेत पर आईं। इसी दौरान आरोपी अपने दो साथियों के साथ एक सफेद रंग की गाड़ी में आए और ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी।

फायरिंग के दौरान एक आरोपी को भी गोली लग गई जिससे वह गभीर रूप से घायल हो गया। बदमाश घायल आरोपी को गाड़ी में डालकर वहां से भाग निकले। घटना के बाद मौके पर अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया। खेत पर काम कर रहे मजदूर जान बचाकर भागने लगे। सूचना पाकर ग्रामीणों की भीड़ मौके पर जमा हो गई और आनन-फानन में अमरीष को जिला अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। घटना की रिपोर्ट मृतक की पुत्री ने थाने में दर्ज कराई जिसमें गौरव, रोहतास शर्मा, निखिल शर्मा, ललित शर्मा व दो अन्य को नामजद किया गया है। पुलिस ने इस मामले में तुरंत कार्यवाई करते हुए एक नामजद हत्यारोपी ललित शर्मा पुत्र सन्तोष शर्मा को गिरफ्तार कर लिया। इसके अलावा पुलिस बाकी अन्य आरोपियों की तलाश में जुट गई है।

आरोपियों पर एनएसए के तहत होगी कार्यवाई
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मामले को अपने संज्ञान में लिया और अधिकारियों को इस मामले में सख्त से सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए। उन्होंने इस मामले में शामिल सभी आरोपियों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम (NSA) के तहत कार्रवाई करने के भी निर्देश दिए हैं।