देश में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या पहुंची 223, करीब 6700 लोग निगरानी में रखे गए

महाराष्ट्र में 49 लोग संक्रमित पाए गए हैं। केरल में 26, कर्नाटक में 15, दिल्ली में 16 और उत्तर प्रदेश में 22 मामले सामने आए हैं। अब तक 20 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कोरोना वायरस के मामले सामने आए हैं।

0
39

नई दिल्ली: भारत में कोरोना वायरस का प्रकोप लगातार बढ़ता ही जा रहा है। ताजा आंकड़ों के मुताबिक देश में अबतक कम से कम 223 लोग इस वायरस से संक्रमित हो गए हैं जबकि 6700 लोगों को 24 घंटे निगरानी पर रखा गया है। हैरान करने वाली बात तो ये है कि इस वायरस से संक्रमण से देश में 4 मौत हो चुकी है जबकि ऑस्ट्रेलिया से भारत लौटे एक छात्र में दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल से भर्ती एक शख्स ने सफदरजंग अस्पताल की छत से कुद कर खुदकुशी कर ली है। वहीं इस बीच संतोषप्रद खबर ये है कि 23 लोग इलाज के बाद ठीक हुए हैं और घर लौट चुके हैं। संक्रमित 223 लोगों में 32 लोग विदेशी मूल के हैं।

वहीं बात करें दुनिया भर में फैले संक्रमण की दो पूरी दुनिया में करीब 2 लाख से ज्यादा लोग इस वायरस के संक्रमण से संक्रमित हैं। ताजा आंकड़ों के मुताबिक, कोरोना वायरस के संक्रमण से अबतक दुनियाभर में 10,000 लोगों की मौत हुई है। शुक्रवार को स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि कोरोना वायरस अति संक्रामक है, विकसित देशों सहित 160 देश इससे प्रभावित हैं। उन्होंने कहा कि COVID-19 से निपटने में आपसी दूरी बनाए रखना प्राथमिक बचाव है। किसी प्रकार के सवाल के लिए टोल-फ्री नंबर 1075 पर कॉल करें, हम बचाव/रोकथाम पर काम कर रहे हैं। वहीं स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि प्रधानमंत्री ने जनता कर्फ्यू का आह्वान किया है, एक दिन का सहयोग संक्रमण प्रसार के चेन को रोकने में मदद करेगा।

आपको बता दें कि भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या महाराष्ट्र में सबसे अधिक है। यहां 49 लोग संक्रमित पाए गए हैं। केरल में 26, कर्नाटक में 15, दिल्ली में 16 और उत्तर प्रदेश में 22 मामले सामने आए हैं। अब तक 20 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कोरोना वायरस के मामले सामने आए हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी रविवार को लोगों को सुबह 8 बजे से लेकर रात के 9बजे तक घरों में रहने की अपील की है औऱ साथ ही निवेदन किया है कि जबतक जरुरी ना हो तब तक लोग अपने घरों से बाहर ना निकलें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here