शहीद सैनिकों के परिवार को मिलने वाली आर्थिक मदद रक्षा मंत्रालय ने 4 गुना बढ़ाई, 2 लाख रुपये से बढ़ाकर 8 लाख रुपये हुई

यह आर्थिक सहयोग युद्ध के हताहतों के लिए बनाए गए सैनिक कल्याण निधि (ABCWF) के तहत दिया जाएगा। यह मदद पेंशन, सेना की सामूहिक बीमा, सेना कल्याण निधि और अनुग्रह राशि के अलावा दी जाती है।

0
61
FILE Photo

नई दिल्ली: युद्ध में शहीद हुए सैनिकों के परिवारों को दी जाने वाली आर्थिक सहायता को सरकार ने बढ़ाने की मंजूरी दे दी है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के सेना की काफी लंबे समय से चली आ रही मांग को स्वीकार करते हुए युद्ध में शहीद हुए सैनिकों के परिवारों को दी जाने वाली आर्थिक सहायता को मौजूदा 2 लाख रुपये से बढ़ा कर 8 लाख रुपये करने के प्रस्ताव को स्वीकृति दे दी है। इस बढ़ोतरी को देखा जाय तो ये बढ़ोतरी वर्तमान के मुकाबले 4 गुना ज्यादा है।

अधिकारियों के मुताबिक यह आर्थिक सहयोग युद्ध के हताहतों के लिए बनाए गए सैनिक कल्याण निधि (ABCWF) के तहत दिया जाएगा। अभी युद्ध में शहीद होने वालों और 60 प्रतिशत या उससे अधिक अपंगता झेलने वालों के अलावा कई अन्य श्रेणी के तहत आने वाले सैनिकों को दो लाख रुपये तक की आर्थिक सहायता दी जाती है। यह मदद पेंशन, सेना की सामूहिक बीमा, सेना कल्याण निधि और अनुग्रह राशि के अलावा दी जाती है।

रक्षा मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने बताया, ‘रक्षा मंत्री ने युद्ध हताहतों की सभी श्रेणी के परिवारों को दी जाने वाली आर्थिक सहायता 2 लाख रुपये से बढ़ाकर 8 लाख रुपये करने को सैद्धांतिक स्वीकृति दी।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here