राफेल मिलने के बाद पेरिस में शस्त्र पूजन करेंगे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, लड़ाकू विमान में उड़ान भी भर सकते हैं

भारत ने करीब 59 हजार करोड़ रुपये मूल्य पर 36 राफेल लड़ाकू जेट विमान खरीदने के लिए सितंबर 2016 में फ्रांस के साथ अंतर-सरकारी समझौता किया था।

0
38

नई दिल्ली: मंगलवार का दिन कई मायनों में खास है भारत के लिए। एक तो विजयादशमी का मौका और इसी मौके पर भारत के पहले राफेल विमान भी मिलने जा रहा है। पेरिस में राफेल की डिलीवरी लेने के लिए खुद रक्षामंत्री राजनाथ सिंह पेरिस में मौजुद हैं। राफेल के डिलीवरी के बाद राजनाथ सिंह यहीं विजयादशमी के मौके पर शस्त्र पूजन भी करेंगे। आपको बता दें कि विजयादशमी के दिन ही शस्त्र पूजन का विधान है। अधिकारियों के मुताबिक, एडवांस तकनीक से युक्त राफेल की डिलीवरी लेने के बाद रक्षामंत्री राजनाथ सिंह राफेल में उड़ान भर सकते हैं। राफेल की डिलीवरी के राफेल बनाने वाले कंपनी जो बोर्डोक्स में है वही से लेंगे।

राफेल की डिलीवरी लेने के बाद और उसमें उड़ान भरने से पहले रक्षामंत्री राजनाश सिंह पेरिस में फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैंक्रो के साथ मुलाकात करेंगे। इसके बाद रक्षामंत्री फ्रांस के दक्षिणी पश्चिमी शहर बोर्डोक्स जायेंगे जहां वो भारत द्वारा खरीदे गए पहले राफेल के सौंपे जाने के कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। इस मौके पर फ्रांस के रक्षामंत्री फ्लोरेंस पार्ले भी भारतीय रक्षामंत्री के साथ मौजूद रहेंगे। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, ‘रक्षामंत्री विजयदशमी के पावन अवसर पर शस्त्र पूजा भी करेंगे और राफेल लड़ाकू विमान में उड़ान भी भरेंगे।’ इस मौके पर फ्रांस के शीर्ष सैन्य अधिकारी तथा राफेल के विनिर्माता दसाल्ट एविएशन के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहेंगे।

आपको बता दें कि भारत ने करीब 59 हजार करोड़ रुपये मूल्य पर 36 राफेल लड़ाकू जेट विमान खरीदने के लिए सितंबर 2016 में फ्रांस के साथ अंतर-सरकारी समझौता किया था। वैसे तो रक्षामंत्री राजनाथ सिंह मंगलवार को 36 राफेल जेट विमानों में पहले विमान की डिलीवरी मंगलवार को ले रहे हैं, लेकिन चार विमानों का पहला खेप अगले साल मई तक ही भारत आएगा। सभी 36 राफेल जेट विमान सितंबर 2022 तक भारत पहुंचने की संभावना है। उसके लिए भारतीय वायुसेना जरूरी बुनियादी ढांचा तैयारी करने और पायलटों को प्रशिक्षण देने समेत जरूरी तैयारियां कथित रूप से कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here