पुलवामा हमले की पहली बरसी आज, 40 जवानों की शहादत को देश कर रहा है याद

14 फरवरी 2019 को दोपहर के करीब साढ़े 3 बजे सीआरपीएफ के जवानों से भरी करीब 75 से भी ज्यादा बसें जिनमें लगभग 2500 जवान सवार थे। ये बसें जम्मू-कश्मीर के नेशनल हाइवे 44 से गुजर रहीं थीं।

0
33
FILE Photo

नई दिल्ली: पिछले साल आज की ही दिन यानी 14 फरवरी को आतंकवादियों ने पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हमला हुआ था। इस हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे। ये हमला इतना दर्दनाक था कि पूरे देश सकते में आ गया था और एकबार फिर पूरा देश पाकिस्तान के खिलाफ एकजूट हो गया था। सीआरपीएफ जवानों पर हमले के लिए पाकिस्तानी आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी। बाद में इस हमले का बदला लेने के लिए भारत ने पाकिस्ता स्थित बालाकोट स्थित जैश के ठिकानों पर एयर स्ट्राइक किया था और भारतीय सेना ने सब तहस नहस कर दिया था। आज पूरा देश उन जवानों का याद कर रहा है जिनकी इस हमले में शहादत हुई थी।

14 फरवरी 2019 को दोपहर के करीब साढ़े 3 बजे सीआरपीएफ के जवानों से भरी करीब 75 से भी ज्यादा बसें जिनमें लगभग 2500 जवान सवार थे। ये बसें जम्मू-कश्मीर के नेशनल हाइवे 44 से गुजर रहीं थीं। हालांकि ये कोई पहला मौका नहीं था जब जवान ऐसे बसों में बैठ कर जा रहे हों। पहले भी कई बार जवान छुट्टियों के बाद अपने घर इस तरह से जा चुके थे। सभी गाड़िया एकसाथ आगे बढ़ रही थी और उसी दौरान एक अंजान कार ने काफिले में चल रही एक बस को जोरदार टक्कर मारी दी जिसके बाद जोरदार धमाका हुआ और इस धमाके के बाद जो हुआ उसे पूरी दुनिया ने देखा। धमाके के बाद आतंकवादियों ने जवानों की बस भी ताबड़तोड़ फायरिंग भी शुरु कर दी। जब तक जवानों ने अपनी पोजीशन संभाली तबतक आतंकवादी भागने में सफल रहे।

पुलवामा हमले में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि देने के लिए सीआरपीएफ कार्यक्रम आयोजित कर रही है। इस कार्यक्रम का आयोजन लेटपोरा स्थित सीआरपीएफ प्रशिक्षण केन्द्र में किया जा रहा है। सीआरपीएफ अधिकारी के मुताबिक ये एक सम्मान समारोह भी होगा साथ ही एक शहीद स्तंभ का अनावरण पुलवामा हमले में शहीद हुए जवानों के नाम किया जाएगा। इस मौके पर लेटपोरा में रक्तदान शिविर का भी आयोजन किया गया है। हालांकि इस समारोह में शहीदों के परिजनों को आमंत्रित नहीं किया गया है। सीआरपीएफ के मुताबित शहीदों के घरों में बरसी की रस्में की जाएंगी, जिसके चलते ये फैसला लिया गया है।

गृहमंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर पुलवामा के शहीदों को याद किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here