NRC को लेकर गृहमंत्री अमित शाह का बड़ा बयान, कहा – जो भारत का है वो यही रहेगा

अमित शाह ने सभी बीजेपी कार्यकर्ताओं से अपील की है कि वो हर बंगाली परिवार तक पहुंचे और उन्हें नागरिकता संशोधन विधेयक और एनआरसी के बारे में समझाएं।

0
95
Photo: ANI

कोलकाता: गृहमंत्री अमित शाह ने पश्चिम बंहाल की राजधानी कोलकाता में एनआरसी जागरुकता कार्यक्रम में लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि “मैं आपको स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि हम एनआरसी ला रहे हैं और उसके बाद हिन्दुस्तान में एक भी घुसपैठियो को नहीं रहने दिया जाएगा। उन्हें चुन चुन कर बाहर निकाला जाएगा। जो भारत का है वो यहीं रहेगा।” साथ ही गृहमंत्री ने ये भी कहा कि जो शरणार्थी हैं उन्हें वोट डालने का पूरा अधिकार दिया जाएगा। दरअसल मोदी सरकार पूरे देश में एनआरसी को लागू करने का मन बना चुकि है लेकिन इससे पहले सरकार सिटिजन अमेंडमेंट एक्ट लाने की तैयारी कर रही है, जिसके तहत भारत में जितने भी हिन्दू, मुस्लिम, सिख, बौद्ध, जैन ईसाई शरणार्थी आए हैं, उन्हें हमेशा के लिए भारतीय नागरिकता दी जाएगी।

अमित शाह ने सभी बीजेपी कार्यकर्ताओं से अपील की है कि वो हर बंगाली परिवार तक पहुंचे और उन्हें नागरिकता संशोधन विधेयक और एनआरसी के बारे में समझाएं। पश्चिम बंगाल की ममता सरकार पर निशाना साधते हुए गृहमंत्री अमित शाह ने कहा, ” मैं ममता दी और टीएमसी सरकार से कहना टाहता हुं कि हमें जितना चाहे रोक सकते हैं, लेकिव पीएम नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व को ना केवल भारत सरकार ने स्वीकार किया है बल्कि इसे दुनिया और बंगाल ने भी स्वीकार किया है।” इतना ही नहीं अमित शाह ने ये भी कहा कि, “पीएम मोदी ने बंगाल के लोगों सहित भारत के हर गरीब को प्रति वर्ष 5 लाख रुपये का चिकित्सा बीमा दिया है. लेकिन ममता दी आयुष्मान भारत को पश्चिम बंगाल के गरीब लोगों तक नहीं पहुंचने दे रही हैं।”

अनुच्छेद 370 पर बात करते हुए अमित शाह ने कहा कि अनुच्छेद 370 हटाने की आवाज सबसे पहले पश्चिम बंगाल से ही उठी थी। श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने यहीं से एक देश..एक संविधान का नारा दिया था। अमित शाह ने इसी मंच से एक बार फिर श्यामा प्रसाद मुखर्जी के उस नारे को दोहराते हुए कहा कि जहां हुए बलिदान मुखर्जी वो कश्मीर हमारा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here