“मन की बात” में पीएम मोदी ने देश को याद दिलाया अयोध्या मामला, लोगों से संयम बरतने की अपील की

उन्होंने 'मन की बात' में 2010 के इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसले के दौरान देश में बने माहौल का जिक्र करते हुए कहा कि तब न्यायपालिका की गरिमा का सम्मान किया।

0
40
FILE Photo

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दीवाली के मौके पर मन की बात की और देशवासियों को दीवाली की शुभकानायें दी। इस मौके पर पीएम नरेन्द्र मोदी ने राम जन्मभूमि का ज़िक्र किया। राम जन्म भूमि के बारे में बात करते हुए पीएम ने कहा कि साल 2010 में जब राम जन्मभूमि पर फैसला आया था और उस समय सभी ने कोर्ट के फैसले का सम्मान करते हुए उसे स्वीकार किया था। साथ पीएम ने देश के लोगों को अगले महीने अयोध्या मामले पर फैसला आने से पहले इशारों इशारों में संयम रखने की अपील की। उन्होंने ‘मन की बात’ में 2010 के इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसले के दौरान देश में बने माहौल का जिक्र करते हुए कहा कि तब न्यायपालिका की गरिमा का सम्मान किया। पीएम मोदी ने कहा कि सभी वर्गों ने तनाव कम करने की कोशिश की। ये बातें हमेशा याद रखनी चाहिए। ये हमें बहुत ताकत देती है।

प्रधानमंत्री ने उस घटना को याद करते हुए कहा, ” मुझे याद कि सितंबर 2010 में जब राम-जन्मभूमि पर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने फैसला सुनाया, जरा उन दिनों को याद कीजिए कि कैसा माहौल था? भांति-भांति के कितने लोग मैदान में आ गए थे। उस परिस्थिति का अपने -अपने तरीकों से फायदा उठाने के लिए लोग खेल खेल रहे थे। माहौल में गर्माहट पैदा करने के लिए किस-किस प्रकार की भाषा बोली जाती थी। कुछ बयानबाजो और बड़बोलों ने सिर्फ और सिर्फ खुद को चमकाने के इरादे से ना जाने क्या क्या बोल दिया था। कैसी – कैसी गैर जिम्मेवार बातें की थी। हमें सब याद है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here