प्रफुल्ल पटेल से ईडी ने की 12 घंटे पूछताछ, दाऊद इब्राहिम के करीबी के साथ कारोबारी रिश्ते होने का आरोप

प्रफुल पटेल की कंपनी मिलेनियम डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड ने 2006-07 में सीजे हाउस नामक एक इमारत का निर्माण किया था। इस इमारत की तीसरी और चौथी मंजिल मिर्ची की पत्नी हाजरा इकबाल के नाम ट्रांसफर कर दी गई।

0
61

मुंबई: एनसीपी नेता प्रफुल पटेल की मुश्किलें कम होने के बजाय लगातार बढ़ती जा रही है। प्रवर्तन निदेशालय ने जहां शुक्रवार को पटेल से करीब 12 घंटे पूछताछ की तो वहीं अब ये भी कहा जा रहा है कि प्रवर्तन निदेशालय अगले हफ्ते भी उनसे पूछताछ कर सकती है।दरअसल ईडी का आरोप है कि पटेल के परिवार की तरफ से प्रमोटेड कंपनी और दाउद के करीबी इकबाल मिर्ची के बीच डील हुई थी। आरोप ये भी है कि इस डील के जरिए मिलेनियम डिवेलपर्स को मिर्ची का वर्ली स्थित प्लाट दिया गया। प्लॉट पर मिलेनियम डिवेलपर्स ने 15 मंजिला कमर्शियल और रेजिडेंशल इमारत बनाई है।

ईडी ने दावा किया है कि प्रफुल पटेल जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं। हालांकि अब दोबारा उनसे पूछताछ होगी या नहीं इसपर अभी कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। ईडी ने हालांकि ये साफ कर दिया है कि अगर जरुरत पड़ी तो उनका सामना एचडीआईएल के राकेश वधावन से आमना सामना कराया जा सकता है क्योंकि ईडी ये तय करना चाहती है कि पटेल का रियल स्टेट कंपनी एचडीआईएल के साथ कोई संबंध है या नहीं। यूपीए सरकार में मंत्री रहे प्रफुल पटेल शुक्रवार को करीब साढ़े 10 ईडी के दफ्तर में पहुंचे थे और करीब 12 घंटे बाद ईडी के दफ्तर से वापस घर के लिए रवाना हुए थे। सूत्रों के मुताबिक ईडी ने उनसे करीब मामले से जुड़े 50 सवाल पूछे थे।

आपको बता दें कि प्रफुल पटेल की कंपनी मिलेनियम डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड  ने 2006-07 में सीजे हाउस नामक एक इमारत का निर्माण किया था। इस इमारत की तीसरी और चौथी मंजिल मिर्ची की पत्नी हाजरा इकबाल के नाम ट्रांसफर कर दी गई। जिस जमीन पर इमारत बनाई गई है उसके बारे में कहा जा रहा है कि ये जमीन भी मिर्ची की ही है। हालांकि पटेल और उनकी पार्टी ने सौदे में कुछ भी गलत किए जाने से इंकार करते हुए कहा है कि संपत्ति के दस्तावेज बताते हैं लेकिन लेन-देन पूरी तरह साफ सुथरा और पारदर्शी है।

वहीं हाल ही में पटेल ने मीडियाकर्मियों से बातचीत के दौरान अपने कथित सौदे की खबरों को कोरी अटकलें बताकर खारिज कर दिया था। वहीं अब प्रफुल पटेल का नाम पीएमसी घोटाले में भी उड़ाया जा रहा है। नागपुर में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने पंजाब एंड महाराष्ट्र कोऑपरेटिव बैंक (पीएमसी बैंक) में करोड़ों रुपये के घोटाले में पटेल के खिलाफ जांच कराने की मांग की। पटेल का नाम लिये बिना जावड़ेकर ने कहा, ‘‘कुछ लोग ईडी जांच का सामना कर रहे हैं… पीएमसी बैंक दिवालिया मामले में भी उनकी भूमिका की जांच होनी चाहिए।’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here