महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगा, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दी मंजूरी

राज्यपाल ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि प्रदेश में ऐसी स्थिति पैदा हो गई है कि चुनाव नतीजों के आने के 15 दिन बाद भी स्थायी सरकार का बनना अभी तक तय नहीं हो पाया है।

0
91

नई दिल्ली: 28 अक्टूबर को महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के नतीेजे आने के बाद सरकार बनाने को लेकर बढ़े गतिरोध के बीच महाराष्ट्र में मंगलवार को राष्ट्रपति शासन लागू कर दिया गया है। मंगलवार को केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी की रिपोर्ट के बाद प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगाने की सिफारिश की गई थी। केन्द्रीय मंत्रिमंडल के सिफारिश के बाद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सिफारिश को मंजूरी दे दी। राष्ट्रपति के मंजूरी के बाद महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लागू हो गया है। राष्ट्रपति शासन के दौरान महाराष्ट्र विधानसभा निलंबित रहेगी। हालांकि ख़बर ये भी आ रही है कि वुधवार को शिवसेना राष्ट्रपति शासन के खिलाफ राज्यपाल को चिट्ठी दिया जाएगा।

आपको बता दें कि राज्यपाल ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि प्रदेश में ऐसी स्थिति पैदा हो गई है कि चुनाव नतीजों के आने के 15 दिन बाद भी स्थायी सरकार का बनना अभी तक तय नहीं हो पाया है। सरकार बनाने के सभी प्रयास किये गए लेकिन सरकार बनने की कोई स्थिति आगे भी नज़र नहीं आ रही है। राज्यपाल ने अपनी रिपोर्ट में ये भी कहा है कि उन्हें लगता है कि महाराष्ट्र का शासन संविधान के प्रावधानों के अनुसार नहीं चलाया जा सकता है और अब उनके पास कोई विकल्प नहीं बचा है और वो संविधान की अनुच्छेद 356 के प्रावधान पर रिपोर्ट भेजने को विवश हैं।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र के चुनाव नतीजों के बाद बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी, लेकिन शिवसेना के साथ गठबंधन के बाद भी वहां बीजेपी-शिवसेना गठबंधन की सरकार नहीं बन सकी। कारण था, शिवसेना का 50-50 फॉर्मूले पर अड़े रहना। शिवसेना की मांग थी कि प्रदेश में ढाई-ढाई साल की सरकार रहे जिसके पहले चरण में शिवसेना का मुख्यमंत्री हो और दूसरे चरण में बीजेपी का मुख्यमंत्री हो। इसके लिए शिवसेना ने 2019 लोकसभा चुनाव के दौरान तात्कालिन बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के उस वादे का हवाला दिया जिसमें शिवसेना ने दावा किया है कि अमित शाह ने महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में 50-50 फॉर्मूले की बात कही थी। लेकिन बीजेपी शिवसेना के इस दावे को लगातार ख़ारिज करता आया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here