प्रज्ञा ठाकुर को ‘आतंकवादी’ बताने वाले ट्वीट पर राहुल गांधी का बयान, कहा – जो लिखा उस पर कायम हूं

राहुल गांधी ने शुक्रवार को कहा कि वह लोकसभा में विवादित बयान देने वाली भाजपा सांसद प्रज्ञा सिंह को 'आतंकवादी' बताने वाली अपनी टिप्पणी पर कायम हैं।

0
103

नई दिल्ली: नाथूराम गोडसे को देशभक्त कहे जाने वाले बयान पर प्रज्ञा ठाकुर ने हालांकि माफी तो मांग ली है लेकिन इसको लेकर अब भी बवाल कम होने का नाम नहीं ले रहा है। अब प्रज्ञा ठाकुर को आतंकवादी कहे जाने वाले बयान को लेकर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने बिना उनका नाम लिये बड़ा हमला बोला है। हालांकि प्रज्ञा ठाकुर ने संसद में साफ लहजों में कहा है कि कोर्ट ने उन्हें दोषी नहीं माना है तो ऐसे में उनके लिए आतंकवादी शब्द का इस्तेमाल करना भी गैरकानूनी है। और अब राहुल गांधी ने इस बयान पर अपनी प्रतिक्रिया दी है।

शुक्रवार को प्रज्ञा ठाकुर ने संसद में माफी मांगते हुए कहा है कि उनके बयान को तोड़ मरोड़ कर पेश किया गया है। वहींबीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर को ‘आतंकवादी’ कहने के लिए कांग्रेस सांसद राहुल गांधी के खिलाफ विशेषाधिकार प्रस्ताव लाने की मांग की। लोकसभा में निशिकांत दुबे ने कहा कि महाराष्ट्र में कांग्रेस ने शिवसेना के साथ सरकार का गठन किया है जबकि शिवसेना ने अपना ‘सामना’ में भी नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताया था। निशिकांत दुबे के इस बयान पर राहुल गांधी ने अपनी प्रतिक्रिया दी है।

राहुल गांधी ने शुक्रवार को कहा कि वह लोकसभा में विवादित बयान देने वाली भाजपा सांसद प्रज्ञा सिंह को ‘आतंकवादी’ बताने वाली अपनी टिप्पणी पर कायम हैं। उन्होंने संसद परिसर में संवाददाताओं से कहा, “गोडसे भी हिंसा का प्रयोग करता था और यह भी हिंसा का प्रयोग करती हैं।”  यह पूछे जाने पर क्या वह प्रज्ञा को ‘आतंकवादी’ बताने वाली टिप्पणी पर कायम हैं तो गांधी ने कहा, ‘हां! जो मैंने ट्वीट पर लिखा है, उस पर कायम हूं।” उन्होंने यह भी कहा, ‘प्रज्ञा ने वही कहा है जिसमें वह विश्वास करती हैं।”