SPG की जगह अब CRPF की Z प्लस श्रेणी की सुरक्षा में होंगे सोनिया, राहुल और प्रियंका, गृह मंत्रालय की बैठक में फैसला

एसपीजी सुरक्षा देश में सबसे ऊंचे स्तर की सुरक्षा है, जो वर्तमान प्रधानमंत्री और पूर्व प्रधानमंत्री और उनके परिवार के सदस्यों को दी जाती है।

0
113
FILE Photo

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधे, उनके बेटे और सांसद राहुल गांधी, बेटी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी से सुरक्षा में लगे एसपीजी सुरक्षाकर्मियों को हटाया जाएगा और उनकी जगह सीआरपीएफ की जेड श्रेणी की सुरक्षा उन्हें दी जाएगी। शुक्रवार को गृहमंत्रालय की एक उच्च स्तरीय बैठक में इसका फैसला लिया गया है। हालांकि इसके बारे में अभी तक गृहमंत्रालय की तरफ से कोई आधिकारिक जानकारी अभी नहीं दी गई है। हालांकि इससे पहले पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की भी एसपीजी सुरक्षा हटा कर उन्हें सीआरपीएफ की जेड प्लस श्रेणी की सुरक्षा दी गई थी।

हालांकि सरकार के इस फैसले का कांग्रेस ने विरोध किया है। कांग्रेस की वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद ने सरकार के इस फैसले की निंदा करते हुए कहा है कि राजनीतिक द्वेष की वजह से सरकार ऐसा फैसला ले रही है। वहीं गृह मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक एसपीजी ने अपनी एक रिपोर्ट में गांधी परिवार के 30 विदेशी दौरे का हवाला दिया है। एसपीजी ने अपनी रिपोर्ट में इस बात का ज़िक्र किया है कि गांधी परिवार ने बिना उनकी सुरक्षा ने देश के हबाहर गए और इस दौरान उन्हें किसी भी तरह की कोई परेशानी नहीं हुई।

आपको बता दें कि एसपीजी सुरक्षा देश में सबसे ऊंचे स्तर की सुरक्षा है, जो वर्तमान प्रधानमंत्री और पूर्व प्रधानमंत्री और उनके परिवार के सदस्यों को दी जाती है। SPG देश के सबसे जांबाज सिपाही कहे जाते हैं। विशेष सुरक्षा दल (Special Protection Group- SPG) 2 जून, 1988 में भारत की संसद के एक अधिनियम द्वारा बनाया गया था। इसका मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है। यह गृह मंत्रालय के अधीन है।