Uttar Pradesh: मुख्तार अंसारी को यूपी में शिफ्ट कराने की तैयारी में योगी सरकार, SC कोर्ट पहुंची यूपी सरकार

लखनऊ में अजीत सिंह की हत्या के बाद से मुख्तार अंसारी के गैंग में काफी खलबली मच गई है। इसी बीच खुफिया एजेंसियों को मऊ, आजमगढ़, वाराणसी और आसपास के इलाकों में नजर रखने के निर्देश दिए गए हैं।

0
127

लखनऊ: अब ऐसा लग रहा है कि अब जल्द ही उत्तरप्रदेश के जेल में होगा डॉन मुख्तार अंसारी, क्योंकि अब उत्तरप्रदेश की योगी सरकार मुख्तार को पंजाब की जेल से निकाल कर यूपी के जेल में शिफ्ट कराने की तैयारी में जुट गई है।योगी सरकार माफिया मुख्तार अंसारी को पंजाब के रोपड़ जेल से यूपी लाने के लिए कानूनी विकल्पों का सहारा ले रही है। मुख्तार को किसी भी कीमत पर यूपी पुलिस वापस लाने पर आमादा है। मुख्तार के मेडिकल कवच का काट हासिल करने के लिए यूपी सरकार सुप्रीम कोर्ट की शरण में जा पहुंची है।

दरअसल, पंजाब में दर्ज रंगदारी के एक मामले में मुख्‍तार अंसारी पर केस दर्ज कर रोपड़ जेल ले जाया गया था। 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले मुख्तार को बांदा जेल से पंजाब की रोपड़ जेल में शिफ्ट किया गया था। तब से मुख्तार रोपड़ जेल में ही बंद है। इस दौरान यूपी पुलिस की खूब किरकिरी भी हुई। किरकिरी की मुख्य वजह ये रही कि मुख्तार को पेशी के लिए यूपी लाने गई गाजीपुर और आजमगढ़ पुलिस को बैरंग ही वापस आना पड़ा था।

मुख्तार के मेडिकल कवच का निकला कानूनी काट

लखनऊ में अजीत सिंह की हत्या के बाद से मुख्तार अंसारी के गैंग में काफी खलबली मच गई है। इसी बीच खुफिया एजेंसियों को मऊ, आजमगढ़, वाराणसी और आसपास के इलाकों में नजर रखने के निर्देश दिए गए हैं। अब प्रदेश सरकार मुख्तार अंसारी को पंजाब ने वापस उत्तर प्रदेश लाने की तैयारी में है। यूपी सरकार ने मुख्तार अंसारी के मेडिकल कवच का कानूनी काट निकल लिया है।

सुप्रीम कोर्ट की शरण में जा पहुंची यूपी सरकार

सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार की याचिका पर सुनवाई के बाद रोपड़ जेल अधीक्षक को 18 दिसंबर 2020 को एक नोटिस जारी किया था। इसके बाद गाजीपुर पुलिस की दो सदस्यीय टीम को दिल्ली होते हुए रोपड़ और चंडीगढ़ रवाना किया है। टीम दिल्ली जाकर यूपी सरकार के वकील गरिमा प्रसाद से नोटिस लेकर रोपड़ रवाना होगी और जेल अधीक्षक को नोटिस सौंपेंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here