JNU हिंसा मामले पर बोले चिदंबरम, कहा – यह घटना सबूत है कि हम तेजी से अराजकता पर उतर रहे हैं

रविवार की रात देश की इस विख्यात यूनिर्वर्सिटी में कुछ नकाबपोश लोग कैंपस में घुल आए और यहां पढ़ने वाले छात्रों, शिक्षकों और कर्मचारियों के साथ मारपीट शुरु कर दी। इस घटना में कई छात्रों, शिक्षकों और कर्मचारी गंभीर रुप से घायल हो गए हैं, जिन्हें इलाज के एम्स के ट्रऑमा सेंटर में भर्ती कराया गया है।

0
51
Photo: ANI

नई दिल्ली: दिल्ली के जवाहर लाल नेहरु यूनिवर्सिटी में रविवार रात के भड़की हिंसा ने अब राजनीतिक मोड़ ले लिया है। इस घटना को लेकर एकतरफ बीजेपी जहां लेफ्ट और कांग्रेस को जिम्मेदार ठहरा रही है वहीं दूसरी ओर विपक्षी दलों ने इसको लेकर बीजेपी के उपर निशाना साधा है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम में इसके लेकर बीजेपी की मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि ये घटना इस बात का सबसे बड़ा सबूत है कि हम तेजी से अराजकता पर उतर रहे हैं। साथ ही उन्होंने इस घटना के लिए दिल्ली के पुलिस कमिश्नर पर भी निशाना साधा है।

मीडिया को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा है कि “यह घटना सबसे बड़ा सबूत है कि हम तेजी से अराजकता पर उतर रहे हैं। यह देश की राजधानी जहां गृह मंत्री, एलजी और पुलिस आयुक्त की निगरानी होती है वहां के एक प्रतिष्ठित यूनिवर्सिटी में ऐसा हुआ।” दिल्ली के पुलिस कमिश्नर पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि इस घटना के लिए दिल्ली पुलिस के कमिश्नर जिम्मेदार हैं। साथ ही उन्होंने मांग की कि अगले 24 घंटे के अंदर हिंसा करने वाले आरोपियों को पकड़ा जाए और उनपर कड़ी कार्रवाई की जाए। इसके साथ ही चिदंबरम ने कहा, “हम यह भी मांग करते हैं कि अधिकारियों पर जवाबदेही तय की जाए और तुरंत कार्रवाई की जाए।”

आपको बता दें कि रविवार की रात देश की इस विख्यात यूनिर्वर्सिटी में कुछ नकाबपोश लोग कैंपस में घुल आए और यहां पढ़ने वाले छात्रों, शिक्षकों और कर्मचारियों के साथ मारपीट शुरु कर दी। इस घटना में कई छात्रों, शिक्षकों और कर्मचारी गंभीर रुप से घायल हो गए हैं, जिन्हें इलाज के एम्स के ट्रऑमा सेंटर में भर्ती कराया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here