हरियाणा में मनोहर लाल खट्टर ने सरकार बनाने का दावा पेश किया, दिवाली के तुरंत बाद हो सकती है ताजपोशी

रियाणा में मनोहर लाल खट्टर का एकबार फिर से मुख्यमंत्री पद की शपथ लेना लगभग तय है। हरियाणा में सरकार बनाने के लिए बीजेपी को 46 विधायक चाहिए। लेकिन बीजेपी पास सिर्फ 40 विधायक हैं।

0
89
File Photo

चंडीगढ़: गुरुवार को हरियाणा विधानसभा चुनाव के परिणाम के बाद बीजेपी की तरफ से मनोहर लाल खट्टर ने राज्यपाल से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश किया। राज्यपाल के पास दावा पेश करने के बाद ऐसे कयास लगाये जा रहे थे कि वो शुक्रवार को नए सरकार की ताजपोशी होगी, लेकिन अब दिवाली के बाद नई सरकार शपथ लेगी। गुरुवार को जब चुनाव नतीजे आए तो ये नतीजा बीजेपी के लिए सुखद नहीं था। क्योंकि चुनाव से पहले बीजेपी नारा दे रही थी “अबकी बार 75 पार”, लेकिन जो नतीजे आए वो बीजेपी को बहुमत से भी दूर ले गया। जिसका नतीजा हुआ कि निर्दलीय ही बीजेपी के लिए खेवनहार बन गए।

एक तरफ जहां शुक्रवार को नई सरकार के शपथ लेने की बात चल रही थी तो उसी बीच हरियाणा सरकार में मंत्री रहे अनिल विज ने साफ कर दिया कि नई सरकार दिवाली के बाद शपथ लेगी। वही शुक्रवार को ही शाम 4 बजे जेजीपी नेताओं की बैठक है और इसी बैठक के बाद जेजीपी का स्टैंड पता चलेगा कि वो कांग्रेस के साथ जाती है या बीजेपी के साथ। फिलहाल दोनों ही पार्टियां जेजेपी प्रमुख दुष्यंत चौटाला के संपर्क में है। आपको बता दें कि पिछले ही साल इनेलो से बाहर होकर दुष्यंत चौटाला ने अपनी नई पार्टी जननायक जनता पार्टी की स्थापना की थी। जेजेपी को लोकसभा चुनाव के दौरान 7 फीसदी वोट मिला था, जबकि पहली बार विधानसभा चुनाव का अनुभव ले रही जेजेपी का इसबार के चुनाव में शानदार प्रदर्शन रहा है।

वहीं बात करे सरकार बनने की तो हरियाणा में मनोहर लाल खट्टर का एकबार फिर से मुख्यमंत्री पद की शपथ लेना लगभग तय है। हरियाणा में सरकार बनाने के लिए बीजेपी को 46 विधायक चाहिए। लेकिन बीजेपी पास सिर्फ 40 विधायक हैं। ऐसे में बीजेपी अब निर्दलीय विधायकों की ओर देख रही है। फिलहाल 5 निर्दलीयों ने बीजेपी को अपना समर्थन दे दिया है। साथ ही गोपालकांडा की हरियाणा लोकहित पार्टी ने भी बीजेपी को अपना समर्थन दिया है। गोपालकांडा की पार्टी ने इसबार एक सीट पर अपनी जीत दर्ज कराई है। वहीं 10 सीटें जीतने वाली जेजेपी का स्टैंड शाम 4 बजे के बाद साफ हो जाएगा। राज्य में इस वक्त जेजेपी और निर्दलीय किंगमेकर की भूमिका में हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here