राहुल गांधी का पीएम मोदी पर बड़ा हमला, कहा- RSS का प्रधानमंत्री भारत माता से झूठ बोलता हैं, BJP ने किया पलटवार

संबित पात्रा ने कहा, ‘’आज राहुल गांधी जी ने कुछ ट्वीट किया है और जिस प्रकार की भाषा का प्रयोग किया है वो बहुत आपत्तिजनक है। उन्होंने कहा है कि RSS का प्रधानमंत्री भारत माता से झूठ बोलता है। मुझे लगता है राहुल गांधी से भद्रता और अच्छी भाषा की अपेक्षा करना ही गलत है।’’

0
88

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी किसी ना किसी मुद्दे पर चाहे मीडिया के माध्यम से ट्वीटर के माध्यम ले लगातार प्रधानमंत्री मोदी और उनकी सरकार पर लगातार हमलावर रहे हैं। इसी क्रम में एकबार फिर राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा है कि ” RSS का प्रधानमंत्री भारत माता से झूठ बोलता हैं।” इस बार राहुल गांधी ने ट्वीट कर प्रधानमंत्री पर हमला किया है। दरअसल राहुल गांधी ने ‘डिटेंशन सेंटर’ पर एक मीडिया रिपोर्ट को ट्विटर पर शेयर करते हुए लिखा, ‘’RSS का प्रधानमंत्री भारत माता से झूठ बोलता हैं। #JhootJhootJhoot।’’

आपको बता दें कि इस रिपोर्ट के मुताबिक पीएम मोदी एक रैली में कह रहे हैं, ‘’कोई डिटेंशन कैंप नहीं है, जिसमें एनआरसी के बाद हिंदुस्तान के मुसलमानों को रखा जाएगा. झूठ फैलाया जा रहा है।’’ राहुल गांधी के इस बयान पर अब बीजेपी ने भी पलटवार किया है। बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा है कि राहुल गांधी झूठों के सरदार हैं। राफेल डील पर उनका झूठ सब देख चुके हैं। संबित पात्रा ने कहा, ‘’आज राहुल गांधी जी ने कुछ ट्वीट किया है और जिस प्रकार की भाषा का प्रयोग किया है वो बहुत आपत्तिजनक है। उन्होंने कहा है कि RSS का प्रधानमंत्री भारत माता से झूठ बोलता है। मुझे लगता है राहुल गांधी से भद्रता और अच्छी भाषा की अपेक्षा करना ही गलत है।’’

उन्होंने कहा, ‘’राफेल पर झूठ फैलाने के बाद सुप्रीम कोर्ट में राहुल गांधी जी ने माफी मांगी थी। आज वो प्रधानमंत्री जी की बात को लेकर भ्रम फैला रहे हैं।’’ संबित पात्रा ने आगे कहा, ‘’प्रधानमंत्री जी ने कहा था कि ऐसा कोई डिटेंशन कैंप नहीं है, जिसमें एनआरसी के बाद हिंदुस्तान के मुसलमानों को रखा जाएगा। ये झूठ फैलाया जा रहा है। इसमें प्रधानमंत्री जी ने क्या झूठ बोला है?’’ उन्होंने कहा, ”13 दिसंबर 2011 को केंद्र सरकार के एक प्रेस रिलीज में कहा गया था कि 3 डिटेंशन कैंप असम में खोले गये हैं। साल 2011 में केंद्र में कांग्रेस सरकार थी।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here