अपनी मांग पर अड़ी शिवसेना, कहा – अहंकार ना पाले बीजेपी, बीजेपी को याद दिलाया पुराना वादा

संजय राउत ने गुरुवार को एनसीपी प्रमुख शरद पवार से मुलाकात की थी। उन्होंने इस मुलाकात को लेकर कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शरद पवार का मार्गदर्शन लेते है मैं भी उनसे मिलने गया।

0
174
FILE Photo

मुंबई: महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के नतीजे एक सप्ताह पहले ही घोषित हो चुके हैं लेकिन महाराष्ट्र का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा, इसपर सस्पेंस अभी तक बरकरारा है। शिवसेना 50-50 के फॉर्मूले के तहत आदित्य ठाकरे को सबसे पहले मुख्यमंत्री बनाये जाने के मांग से पीछे नहीं हट रही। तो वही बीजेपी भी अपनी बात पर अड़ी है। जिसका नतीजा है कि दोनों पार्टियों के बीच हो रही खींचतान की वजह से महाराष्ट्र में अब तक नए मुख्यमंत्री का शपथग्रहण नहीं हो पाया है।शिवसेना अपने मुख्यमंत्री पद की मांग पर अड़ी है और लगातार बीजेपी को पुराने वादों की याद दिला रही है।

शिवसेना सांसद और प्रवक्ता संजय राउत ने भी साफ शब्दों में ये कह दिया है कि महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री शिवसेना का ही होगा। बीजेपी पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि हम बीजेपी को कोई ‘अल्टीमेटम’ नहीं देंगे, वे बड़े लोग हैं। संजय राउत ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए इशारों इशारों में ये कह डाला, ”साहिब…मत पालिए, अहंकार को इतना। वक़्त के सागर में कई, सिकन्दर डूब गए..!” साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि सरकार गठन को लेकर बीजेपी और शिवसेना के बीच कोई बातचीत नहीं हो रही। संजय रावत ने ये सारी बातें ट्वीट कर कहा है।

संजय राउत ने गुरुवार को एनसीपी प्रमुख शरद पवार से मुलाकात की थी। उन्होंने इस मुलाकात को लेकर कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शरद पवार का मार्गदर्शन लेते है मैं भी उनसे मिलने गया। संजय रावत ने कहा, ”होटल ब्लू सी में जो बात हुई उसपर शिवसेना कायम है। अगर उद्धव ठाकरे कह रहे कि मुख्यमंत्री शिवसेना का होगा तो शिव सेना का ही होगा। अगर हम चाहें तो दो तिहाई बहुमत से सरकार बना सकते है।”