पाकिस्तान को गंवानी पड़ सकती है एशिया कप की मेजबानी, BCCI के रुख का है PCB को इंतजार

एशिया कप अगले साल सितंबर महीने में खेला जाएगा। ऐसे में अगर भारतीय टीम पाकिस्तान आने को तैयार नहीं होती है तो उसे एशिया कप की मेजबानी से हाथ धोना पड़ सकता है।

0
31

नई दिल्ली: पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड अगले साल होने वाले एशिया कप की मेजबानी के लिए पूरी तरह से तैयार है, लेकिन ये मेजबानी पीसीबी के पास रहेगी या नहीं, इस पर संशय बरकरार है। पाकिस्तान के पास एशिया कप की मेजबानी का भविष्य बीसीसीआई के रुख पर तय होगा। हालांकि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद जो हालात पैदा हुए हैं, उससे कम ही उम्मीद है कि टीम इंडिया एशिया कप में हिस्सा लेने के लिए पाकिस्तान जाएगी। ऐसे में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने इसके लिए भारतीय क्रिकेट बोर्ड की पुष्टि करने की समय सीमा तय कर दी है। बीसीसीआई को इसके लिए जवाब देने के लिए जून 2020 तक का वक्त दिया गया है।

आपको बता दें कि एशिया कप अगले साल सितंबर महीने में खेला जाएगा। ऐसे में अगर भारतीय टीम पाकिस्तान आने को तैयार नहीं होती है तो उसे एशिया कप की मेजबानी से हाथ धोना पड़ सकता है। हांलाकि टूर्नामेंट को स्थानांतरित करने का अंतिम फैसल एशियाई क्रिकेट परिषद का विशेषाधिकार है। पीसीबी के सीईओ के मुताबिक मेजबानी पाकिस्तान के पास रहेगी या नहीं इसका फैसला बीसीसीआई के रुख के साथ साथ एशियाई क्रिकेट परिषद और आईसीसी के फैसले पर निर्भर करता है।

पीसीबी ने दोनों पड़ोसी देशों के बीच मौजूदा तनावपूर्ण रिश्तों के दौरान बायलेटरल सीरीज में भारत की मेजबानी को लेकर होने वाली समस्याओं को स्वीकार किया। इसपर बोर्ड का कहना है कि बोर्ड से बोर्ड के स्तर पर हमारे भारत के साथ अच्छे रिश्ते हैं लेकिन उनके यहां सरकार का काफी हस्तक्षेप है और बायलेटरल सीरीज के लिए हम उनके पीछे नहीं दौड़ सकते। अगर वे खेलना चाहते हैं तो उन्हें हमें बताना होगा और प्रतिबद्धता देनी होगी। हमें तटस्थ स्थल पर खेलने में कोई परेशानी नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here