बर्लिनः भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को 2000-2020 का लॉरेंस 20 सम्मान से सम्मानित किया गया है। इसके बाद कहा जा रहा है कि अपने रिटायरमेंट के बाद में सचिन तेंदुलकर रिकॉर्ड बनाने में पीछे नहीं रहे हैं। जर्मनी की राजधानी बर्लिन में आयोजित लॉरेस वर्ल्ड स्पोर्ट्स अवॉर्ड कार्यक्रम में सचिन तेंदुलकर के नाम का ऐलान किया गया। इस कार्यक्रम के लिए सचिन तेंदुलकर का नाम बेस्ट स्पोर्टिंग मोमेंट केटेगरी में शामिल किया गया था। इस सम्मान के लिए सचिन तेंदुलकर समेत दुनिया भर से 20 दावेदारों का नोमिनेशन किया गया था लेकिन सभी को पीछे छोड़ते हुए मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने ये अवॉर्ड अपने नाम किया है।

2011 में हुए विश्वकप पर भारत की जीत के बाद सचिन तेंदुलकर से जुड़े लम्हों को “कैरीड ऑन द शोल्डर्स ऑफ ए नेशन” टाइटल दिया गया है। करीब 9 साल पहले यानि 2011 में सचिन तेंदुलकर अपने छठे विश्व कप में खेलते हुए फाइनल मुकाबला जीतने वाली टीम के सदस्य बने थे। विश्व कप जीतने के बाद साथी खिलाड़ियों ने उन्हें अपने कंधों पर बिठाकर स्टेडियम का चक्कर लगवाया था। इस दौरान खुद सचिन तेंदुलकर अपने फैंस का अभिवादन करते हुए नहीं थक रहे थे।