सौरभ गांगुली ने संभाला बीसीसीआई अध्यक्ष का पदभार, इस मौके पर क्या कहा सौरभ ने सुनिए…

बीसीसीआई के 39 वें अध्यक्ष के रुप में सौरभ गांगुली को निर्विरोध चुना गया है। सौरभ गांगुली अपने इस पद पर मात्र 10 महीने यानि जुलाई 2020 तक बने रहेंगे।

0
40

मुंबई: भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरभ गांगुली ने वुधवार को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के नए अध्यक्ष के रुप में अपना कार्यभार संभाल लिया है। सौरभ बीसीसीआई के 39 वें अध्यक्ष बन गए हैं और इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित प्रशासकों की समिति (सीओए) भंग हो गई है। बीसीसीआई के 39 वें अध्यक्ष के रुप में सौरभ गांगुली को निर्विरोध चुना गया है। सौरभ गांगुली अपने इस पद पर मात्र 10 महीने यानि जुलाई 2020 तक बने रहेंगे।

सौरभ गांगुली के अलावा गृहमंत्री अमित शाह के बेटे जय शाह को बीसीसीआई के नए सचिव बनाए गए हैं। वहीं बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष अनुराग ठाकुर के भाई अरुण सिंह को बोर्ड का कोषाध्यक्ष बनाया गया है। सौरभ गांगुली का ये कार्यकाल मात्र 10 माह का होगा और उसके बीसीसीआई के नए संविधान के अनुसार सौरभ को 2020 के सितंबर में तीन साल के लिए कूलिंग ऑफ पीरियड में जाना होगा। इसके अंतर्गत सौरभ गांगुली अपने पदभार छोड़ने के तीन साल तक बीसीसीआई के किसी भी पद पर नियुक्त नहीं हो पाएंगे। आपको बता दें कि बीसीसीआई के नए नियम के मुताबिक एक प्रशासक लगातार 6 साल तक ही अपनी सेवाएं दे सकता है।

आपको बता दें कि बीसीसीआई को पहली बार ऐसा अध्यक्ष मिला है जिसके पास 400 से ज्यादा अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने का अनुभव है। सौरभ ने अपने वनडे करियर की शुरुआत 1992 में वेस्टइंडिज के खिलाफ किया था। इतना ही नहीं, सौरभ में कुल 49 टेस्ट और 146 वनडे मुकाबलों में टीम इंडिया की कप्तानी की है। क्रिकेट से सन्यास लेने के बाद भी सौरभ क्रिकेट से जुड़े रहे। कई मैचों में कमेन्टरी की औऱ अब बीसीसीआई अध्यक्ष के तौर पर नई पारी की शुरुआत की। साल 2015 में प्रशासक के रुप में उन्होंने अपनी नई पारी की शुरुआत की थी और बंगाल क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष बनाए गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here