सरकार द्वारा थोपी जा रही पाबंदियों के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया के सारे अखबारों ने अपना पहला पन्ना काला किया

अपनी एकजुटता का प्रदर्शन करते हुए ऑस्ट्रेलियन मीडया ने ऐसा सरकार द्वारा मीडिया पर जबरदस्ती थोपी जा रही पाबंदियों के विरोध में किया।

0
28

सिडनी: ऑस्ट्रेलिया में सोमवार को सारे अख़बार का पहला पन्ना काला पाया गया। दरअसल अपनी एकजुटता का प्रदर्शन करते हुए ऑस्ट्रेलियन मीडया ने ऐसा सरकार द्वारा मीडिया पर जबरदस्ती थोपी जा रही पाबंदियों के विरोध में किया। ऑस्ट्रेलियन मीडिया के विरोध के इस तरीके ने भारत के आपातकाल के दौर की यादें ताजा कर दी, जब एक दिन के लिए भारतीय अख़बारों ने भी एक दिन के लिए अपना पन्ना काला रखा था। ऑस्ट्रेलियन मीडिया ने सरकार के विरोध में पहले पन्ने के शब्दों को काला करते हुए लिखा है कि ‘यह प्रकाशन के लिए नहीं-सीक्रेट’। दरअसल ऑस्ट्रेलियन मीडिया का ये विरोध ऑस्ट्रेलियाई सरकार के उस कानून को लेकर भी है, जिसके तहत देश में गोपनीयता का माहौल बनाया जा रहा है।

मीडिया ने नागरिकों से भी अपील की है कि वे इस मामले को लेकर सवाल खड़ा करें। हालांकि इस बारे में ऑस्ट्रेलिया की सरकार ने बयान जारी कर कहा है कि वह प्रेस की स्वतंत्रता का समर्थन करती है, लेकिन कानून से ऊपर कोई भी नहीं है। संपादक लिसा डेविस ने ट्वीट कर कहा है कि अखबारों का ये अभियान पत्रकारों के लिए नहीं है, बल्कि ऑस्ट्रेलिया के लोकतंत्र के लिए है। वहीं न्यूज कॉर्प ऑस्ट्रेलिया के कार्यकारी चेयरमैन माइकल मिलर ने अखबार के पहले पन्ने ट्वीट करते हुए कहा कि नागरिकों को सवाल उठाना चाहिए कि वे मुझसे क्या छिपाने की कोशिश कर रहे हैं।

आपको बता दें कि इसी साल जून में ऑस्ट्रेलियाई पुलिस ने ऑस्ट्रेलियन ब्रॉडकास्टिंग कॉरपोरेशन यानि एबीसी और  और न्यूज कॉर्प ऑस्ट्रेलिया के पत्रकारों के घर पर छापा मारा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here