कोरोना वायरस से बढ़ा मौतों का आंकड़ा, अबतक 106 मौत, 1300 नए मामले सामने आए

न्यू कोरोनावायरस निमोनिया एक श्वसन संक्रमण है। इस बीमारी में मुंह का लार छूने से भी लोग संक्रमित हो सकते हैं। इसलिए यात्राएं कम करें और भीड़ भरे स्थानों पर न जाएं।

0
55

नई दिल्ली: चीन में कोरोना वायरस की वजह से मौत का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। इसकी वजह से चीन में अब तक 106 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 1300 नए मामले सामने आए हैं। सेंट्रल हुबेई प्रांत में स्वास्थ्य आयोग के मुताबिक 24 और लोगों की मौत वायरस से हुई है और 1,291 अधिक लोग संक्रमित हुए हैं। अभी तक 4000 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं। चीन के बाद अब कोरोना वायरस दूसरे देश में पांव पसार रहा है। अमेरिका, हांगकांग, मकाऊ, ताईवान और भारत के बाद अब श्रीलंका में भी कोरोन वायरस के कई संदिग्ध मिले हैं। सोमवार को चीन के प्रधानमंत्री ली केकियांग ने नए कोरोनो वायरस के कारगर नियंत्रण के लिए स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ बैठक की।

इस मुद्दे पर चीन के प्रधानमंत्री ने कहा कि देश की एजेंसियों को रोग की रोकथाम और नियंत्रण की गंभीर स्थिति पर ध्यान देने और नागरिकों की जान की सुरक्षा और स्वास्थ्य को प्रथामिकता देना चाहिए। इसके अलावा, ज्यादा सुव्यवस्थित, मजबूत और वैज्ञानिक कदम उठाकर रोग के फैलाव को कारगर रूप से नियंत्रित किया जाए। चीनी राज्य परिषद ने कहा कि न्यू कोरोना वायरस निमोनिया की महामारी को रोकने के लिए वसंत त्योहार की छुट्टी को 2 फरवरी तक बढ़ा दिया गया है। कॉलेजों, मिडिल, प्राइमरी स्कूलों और किंडरगार्टन स्कूलों में भी छुट्टियां बढ़ा दी गई है।

चीनी रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र के विशेषज्ञ फंग लू चाओ ने कहा कि न्यू कोरोनावायरस निमोनिया एक श्वसन संक्रमण है। इस बीमारी में मुंह का लार छूने से भी लोग संक्रमित हो सकते हैं। इसलिए यात्राएं कम करें और भीड़ भरे स्थानों पर न जाएं। इस बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक ट्रेडोस अधानोम घेब्रेयसुस चीन के दौरे पर जा रहे हैं। वे चीनी अधिकारियों और विशेषज्ञों के साथ महामारी की रोकथाम पर भी चर्चा करेंगे। इसके साथ ही डब्ल्यूएचओ की टीम भी ग्राउंड रिपोर्टिंग भी करेगी और चीन के साथ रोकथाम के लिए सहयोग पर चर्चा करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here